आमजन तक पहुंचे कल्याणकारी योजनाओ का फायदाः चौधरी

विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

0
220

बाड़मेर

जन कल्याणकारी योजनाओ का फायदा अधिकाधिक आमजन तक पहुंचाना सुनिश्चित करें। जन कल्याणकारी योजनाओं की क्रियान्विति में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बाड़मेर जिले को ओडीएफ घोषित करवाने के लिए समन्वित प्रयास किए जाए। सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट कांफ्रेस हाल में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक के दौरान यह बात कही।

सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने कहा कि केन्द्र एवं राज्य सरकार जन कल्याणकारी योजनाओ के क्रियान्वयन को लेकर बेहद गंभीर है। इसकी नियमित रूप से मोनेटरिंग की जा रही है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत बाड़मेर जिले को खुले में शौच से मुक्त घोषित करवाने के लिए जन प्रतिनिधि भी सक्रिय योगदान करें। उन्होंने सरकारी योजनाओ की जानकारी आमजन तक पहुंचाने के निर्देश दिए। सांसद ने कहा कि अधिकारी सरकारी योजनाओ के क्रियान्वयन को लेकर गंभीरता से कार्य करें। सांसद कर्नल सोनाराम चौधरी ने मनरेगा में कार्य स्वीकृत करवाने, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत स्वीकृत कार्य पूर्ण करवाने एवं बारिश से क्षतिग्रस्त हुई सड़को की मरम्मत करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने इस दौरान विभिन्न योजनाओ की प्रगति की समीक्षा करते हुए संबंधित विभागीय अधिकारियो को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि सभी लाभार्थियो को निर्धारित समयावधि में पेंशन का भुगतान सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने गलत खातो में जमा हुई पेंशन का भुगतान वास्तविक पेंशनरो को करने के निर्देश दिए। इस दौरान जिला कलक्टर शिवप्रसाद मदन नकाते ने महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत स्वीकृत कार्याें को प्राथमिकता से पूर्ण करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना के तहत बाड़मेर जिले में आयल पेट्रो केमिकल, हैंडीक्राफ्ट से संबंधित नए टेªड प्रारंभ होने वाले है। उन्होंने पांच वर्ष से पुरानी सड़को के मरम्मत के प्रस्ताव भिजवाने के निर्देश दिए। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एम.एल.नेहरा ने ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से संचालित विकास योजनाओ की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बाड़मेर जिले को 31 दिसंबर तक ओडीएफ घोषित करवाने के प्रयास किए जा रहे है।

स्वच्छ भारत मिशन के तहत बजट की कोई कमी नहीं है। इस दौरान सेड़वा प्रधान पदमाराम मेघवाल ने सेड़वा में बैंक सेवाएं नहीं मिलने एवं कोनरा सरपंच साकर खान ने बीएसआर दरो के कारण विकास कार्य प्रभावित होने का मामला उठाया। बैठक के दौरान अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई, जिला रसद अधिकारी अशोक संेगवा, उप महानिरीक्षक मुद्रांक जीतेन्द्रसिंह नरूका समेत विभिन्न विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here