ईदुल अज़हा का पर्व 22 को 

0
67
file photo

बाड़मेर।

आम मुस्लिम समाज बाड़मेर और मुस्लिम इंतेजामिया कमेटी की राय मशविरा और इस्साकिया मदरसा जोधपुर से शहादत ए आम्मा मिल जाने के बाद फैसला किया गया कि बाड़मेर जिले में इस्लामिक पाक त्यौहार ईदुल अज़हा का पर्व 22 बरोज बुधवार को पूर्ण अकीदत के साथ मनाया जायेगा। गैंहू रोड़ स्थित ईदगाह के मैदान में सुबह 8:30 बजे जामा मस्जिद के पेश इमाम हाजी मौलाना लाल मोहम्मद सिद्दीकी की इमामत में ईद की नमाज़ अदा की जाएगी।

मुस्लिम इंतेजामिया कमेटी के सदर हाजी अब्दुल गनी खिलजी ने बताया कि मुम्बई से सुन्नी जमात की ओर से जोधपुर इस्साकिया मदरसा को सहादत मिलने के बाद मुफ़्ती शेर मोहम्मद साहब से विचार विमर्श कर शहादत ए आम्मा मिलने के बाद बाड़मेर ज़िले में 22 बरोज बुधवार को ईद अल्ज़हा का पर्व मनाने का निर्णय लिया गया है। इस मौके पर बाड़मेर में गेहूं रोड स्थित ईदगाह में सुबह 8:30 बजे ईद नामज़ अदा की जाएगी।

कमेटी के सचिव अबरार मोहम्मद ने बताया कि ईदगाह के मैदान नमाज़ियों के लिए कमेटी की ओर से माकूल बंदोबस्त किए जाएंगे। बावजूद इसके मोमीन भाई अपने घरों से वजू करके आये। साथ ही पाक साफ कपड़ा इत्यादि साथ में लावें। समय का ख्याल रखें। ठीक साढ़े आठ बजे नमाज़ खड़ी हो जायेगी। ईदगाह में ट्यूबवेल का काम प्रगति पर है। कुछ जगह पौधारोपण किया गया है। बावजूद इसके काफी काम किया जाना है। अतः ईदगाह का ख्याल रखते हुए बढ़चढ़ के हिस्सा लें और सहयोग करें। ताकि ईदगाह का बेहतर  तरीके से विकास और सौंदर्यकरण किया जा सके।

ये रहे मौजूद

इस अवसर जामा मस्जिद के पेश इमाम हाजी मौलाना लाल मोहम्मद सिद्दीकी, कारी मुख्तियार साहब, मुस्लिम इंतेजामिया कमेटी के सदर हाजी अब्दुल गनी, नायब सदर मोहम्मद रफ़ीक कुरेशी, सचिव अबरार मोहम्मद, खजांची बच्चू खान कुम्हार, हाजी गुलामनब्बी तेली, हारून कोटवाल, अलीशेर राठौड़, मुख्तियार नियारगर सहित कई मौजिज़ मोमीन भाइयों ने शिरकत की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here