पत्रकार दुर्गसिंह राजपुरोहित की मिली जमानत, फोड़े पटाखे बांटी मिठाईयां

0
137

अशोक दईया//बाड़मेर 

जिले के पत्रकार पर रुपयों के लेनदेन व मारपीट के आरोपो में बिहार के पटना में एससी-एसटी एक्ट के तहत राकेश पासवान नामक एक युवक ने कोर्ट के जरिये परिवाद पेश किया गया था। पटना के कोर्ट द्वारा बाड़मेर पुलिस को पत्रकार दुर्गसिंह की गिरफ्तारी को लेकर वारंट जारी हुआ था। जिसके बाद 18 अगस्त को बाड़मेर पुलिस द्वारा उन्हें गिरफ्तार किया गया और पटना पहुंचा दिया गया।

इतनी त्वरित कार्यवाही से बाड़मेर से लेकर पटना पुलिस तक सब सवालों के घेरे में है। पूरे मामले का पटना के समाचार पत्रों व पत्रकारों ने पर्दाफाश कर दिया। जिसको लेकर बाड़मेर, पटना के पत्रकारों सहित देश भर के पत्रकारों ने विरोध करते हुए देश मे न्याय के लिए एक मुहिम शुरू की थी। पटना के संबंधित कोर्ट में आज शुक्रवार को दुर्गसिंह के वकील ने न्यायालय में जमानत याचिका दायर की। जहां से न्यायालय ने जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए आज 5-5 हज़ार दो मुचलकों पर पत्रकार दुर्गसिंह को जमानत पर रिहा कर दिया है।

जमानत मिलने की खबर से सरहदी जिले बाड़मेर में खुशी का माहौल है। शहर के गढरा चौराहे पर आमजन ने कोर्ट के फैसले का सम्मान करते हुए पटाखे फोड़कर खुशी मनाई। वहीं जिले के समस्त पत्रकारों ने अहिंसा चौराहे पर इकठ्ठे होकर पटाखे फोड़कर व एक दूसरे का मुंह मीठा करवाकर कोर्ट के फैसले का सम्मान किया। वहीं बाड़मेर के पत्रकारों ने पटना सहित भारत के पत्रकारों व सर्वसमाजों के हज़ारों लोगों का धन्यवाद ज्ञापित किया और मुहिम में लगातार सहयोग की अपील की।

पचपदरा के पत्रकारों ने पटाखे फोड़कर, मिठाईयां बांटी

पत्रकार दुर्गसिंह राजपुरोहित की जमानत को लेकर पचपदरा के पत्रकारों व स्थानीय लोगों ने अपनी खुशी जाहिर की। पत्रकारों ने बताया कि न्याय की गुहार में पटना के कोर्ट ने पहले पड़ाव पर मोहर लगा दी है। हमे पूर्ण विश्वास है कि दुर्गसिंह राजपुरोहित निर्दोष साबित होंगे, हमे न्यायपालिका पर पूरा भरोसा है। पत्रकारों ने इस दौरान पटाखे फोडकर खुशी जाहिर की व एक दूसरे का मुंह मीठा करवाकर बधाईयां दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here