पंरपरागत राजपूती रिवाज से मानवेन्‍द्र ने दी वाजपेयी को श्रद्धाजंलि

0
212

बाड़मेर।

पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपेयी के निधन से पूरा देश शोकग्रस्‍त है और देश के हर कोने में उन्‍हें श्रद्धांजलि दी जा रही है। भाजपा के कई नेताओं ने वाजपेयी के निधन पर पारंपरिक हिन्‍दु रीति-रिवाज के तहत मुंडन करवाकर उन्‍हें श्रद्धांजलि दी है।

इसी क्रम में बाड़मेर के शिव से विधायक और भाजपा के वरिष्‍ठ नेता जसवंतसिंह के पुत्र मानवेन्‍द्र सिंह ने भी पंरपरागत राजपूती रिवाज से पूर्व प्रधानमंत्री को अपनी श्रद्धाजंलि दी है। वाजपेयी के निधन के बाद से मानवेन्‍द्र ‘शोगिया’ रंग का साफा पहने हुए है।

राजूपती पंरपरा में आमतौर पर परिवार में निधन होने पर परिवार के शेष सदस्‍य गहरे रंग का, जिसे ‘शोगिया’ रंग कहा जाता है, साफा पहनकर शोक व्‍यक्‍त करते है। बारह दिन तक यही साफा पहना जाता है और उसके बाद दुसरे रंग का साफा पहना जाता है।

विधायक मानवेन्‍द्रसिंह भी वाजपेयी के निधन के बाद ‘शोगिये’ रंग का साफा पहने हुए है। मानवेन्‍द्र ने बताया कि वाजपेयी से उनके पारिवारिक संबध थे और वे उनके पितातुल्‍य थे। मानवेन्‍द्र ने कहा, ‘हिन्‍दू रीति रिवाजों में विश्‍वास करता हुं और वाजपेयीजी के निधन पर शोक व्‍यक्‍त करने के लिए ‘शोगिये’ रंग का साफा पहना है।‘ उन्‍होनें बताया कि वे पूरे बारह दिन तक इस साफे का पहने रहेगें।

गौरतलब है कि मानवेन्‍द्रसिंह के पिता जसवंतसिंह के वाजपेयी से घनिष्‍ठ संबध रहे है। जसवंतसिंह को वाजपेयी के सबसे करीबी नेताओं में माना जाता है।

‘शोगिये’ रंग का साफा पहने

विधायक मानवेन्‍द्रसिंह भी वाजपेयी के निधन के बाद ‘शोगिये’ रंग का साफा पहने हुए है। मानवेन्‍द्र ने बताया कि वाजपेयी से उनके पारिवारिक संबध थे और वे उनके पितातुल्‍य थे। मानवेन्‍द्र ने कहा, ‘हिन्‍दू रीति रिवाजों में विश्‍वास करता हुं और वाजपेयीजी के निधन पर शोक व्‍यक्‍त करने के लिए ‘शोगिये’ रंग का साफा पहना है।‘ उन्‍होनें बताया कि वे पूरे बारह दिन तक इस साफे का पहने रहेगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here