पुुलवामा में शहीद जवानों की शहादत पर आक्रोशित मुस्लिम भाईयों ने पाकिस्तान मुर्दाबाद के लगाए नारे

0
122

बाड़मेर।

जम्मु कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुये जाबांज जवानों की शहादत में गांधी चौक स्थित जामा मस्जिद के आगे ‘‘आतंकवाद का खात्मा करो’’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। कार्यक्रम का आयोजन आम मुस्लिम समाज बाड़मेर की ओर किया गया। यहां सैकड़ों की तादाद में मुस्लिम भाईयों ने बाद नमाज जुम्मा को नम आंखों से शहीदों की शहादत को सलाम पेश करते हुये पूरे आक्रोश के साथ हिन्दुस्तान जिन्दाबाद व पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाये गये। इससे पूर्व जुम्मे की खास नमाज के दौरान जामा मस्जिद में जम्मु कश्मीर के पुलवामा की घटना की कड़ी शब्दों में निन्दा करते हुये भर्त्सना की गई। वहीं इस अवसर पर हिन्दुस्तान की खुशहाली, कौमी एकता, आपसी भाईचारा, अमनों-अमान, गंगा-जमुनी संस्कृति को अक्षुण बनाये रखने की दुआएं कर दहशतगर्द का खात्मा हो की कामनाएं की गई।

बाद नमाज के सैकड़ों की तादात में मुस्लिम भाईयों ने शहीदों की शहादत को श्रद्धाजंलि देते हुये उनकी शहादत को सलाम पेश किया। सैकड़ों की तादात में आक्रोशित मुस्लिम भाईयों ने पाकीस्तान मुर्दाबाद व हिन्दुस्तान जिन्दाबाद के नारे लगाकर आतंकवाद के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

इस अवसर पर मुस्लिम इंतेजामिया कमेटी के पूर्व सदर नजीर मोहम्मद ने आतंकी घटना की पूरजोर निंदा करते हुये कहा कि पाकिस्तान द्वारा कायराना हरकत कर हमारे चौवालीस वीर जाबांज शहीदों को शहीद किया है हम खुदा से दुआ करते है कि वह हमें इतनी ताकत दे कि हम उनके चौवालीस जगह चौवालीस सौ को खत्म कर गाड़ के आएंे। नजीर मोहम्मद ने कौम के नौजवानों से आह्वान करते हुये कहा कि हो जाओ तैयार वतन की खातिर हमकों लड़ना है। मातृभूमि पर मर मीट कर भी नाम अमर कर देना है। हिन्दु लड़ेगा, मुस्लिम लडे़गा, लडे़गा सिख-ईसाई क्यूं की भारत मेें रहते है सब-सब भाई-भाई।

इस अवसर पर मुस्लिम इंतेजामिया कमेटी के सदर हाजी अब्दुल गनी खिलजी, पूर्व सदर हाजी गुलाम रसूल तंवर, नायब सदर मोहम्मद रफीक कुरेशी, सचिव अबरार मोहम्मद, संयुक्त सचिव शौकत शेख, खजांची बच्चु खां कुम्हार, आदिल भाई, पूर्व संयुक्त सचिव शाह मोहम्मद कोटवाल, प्रचार मंत्री शाह मोहम्मद सिपाही, हाजी दीन मोहम्मद, हारूण भाई कोटवाल, जाकीर नियारगर, हसन व्यापारी, दोस्त अली, फरीद भाई खिलजी, मुख्तियार नियारगर, शाहीद हुसैन, ईकबाल मोहम्मद सिपाही, इमदाद खान नोहड़ी, सद्धाम खान धनाउ, शाह मोहम्मद व्यापारी सहित सैकड़ो की तादात में मोमीन भाईयों ने पाकिस्तान के विरूद्ध नारेबाजी करते हुये हिन्दुस्तान की आन-बान और शान के लिये मर मिटने संकल्प लिया।

जुम्मे की विशेष नमाज में आतंकवाद के खिलाफ उठे हजारों हाथ, मांगी अमनांे-अमान की दुआएं: इस्लाम मुल्क से मौहब्बत का पैगाम देता है। इस्लाम में दहशतगर्दी के लिये कोई स्थान नहीं। जो दहशतगर्द है, उसका कोई धर्म कोई मजहब नहीं। प्रत्येक मुसलमान को मुल्क की हिफाजत के लिये दिल में जज्बा रखते हुये तैयार रहना चाहिये। मुल्क से मौहब्बत और उसकी हिफाजत से ईमान मजबूत होता है। यह बात जामा मस्जिद के पेश इमाम मौलाना हाजी लाल मोहम्मद सिद्धिकी ने जुम्मे की विशेष नमाज के दौरान ‘‘जम्मू कश्मीर में हुई आतंकी घटना’’ के दौरान इस्लाम का पैगाम देते हुये कही। बाद नमाज जुम्मे के हजारांे हाथ आतंकवाद के खिलाफ खुदा की बारगाह में उठे। इस दौरान हजारों मोमीन भाईयों ने हिन्दुस्तान की तरक्की, साम्प्रदायिक सौहार्द्ध, अमनों-अमनों की दुआएं की गई।

इस अवसर पर मुस्लिम इंतेजामिया कमेटी के सदर हाजी अब्दुल गनी खिलजी ने कहा कि मुल्क से मौहब्बत करना आधा ईमान है। हिन्दुस्तान के प्रत्येक मुसलमान को देश वतन की खातिर मर मिटने को हरदम तैयार रहना चाहिये। सचिव अबरार मोहम्मद ने पुलवामा में हुये आतंकी हमले की कड़े शब्दों में निन्दा करते हुये कहा कि देश को आतंकवाद मुक्त बनाने के लिये हम सबको एकजूट होकर आगे आना होगा। पाक द्वारा कायरता पूर्ण किये जा रहे हमलों से आमजन में भारी आक्रोश व्याप्त है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here