नौकरी का झांसा देकर व्याख्याता ने किया महिला के साथ दुष्कर्म 

0
858
demo pic

बाड़मेर 

सीमावर्ती बाड़मेर जिले के शिवकर निवासी पिता ने मामला दर्ज करवाया कि उसकी बेटी के साथ पीजी कॉलेज के एक व्याख्याता ने नौकरी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया। मामले में महिला की शिकायत के बाद पिता ने महिला थाने में यौन शोषण का मामला दर्ज करवाया है। मामले पिछले कई दिनों से चर्चा में था, लेकिन पुलिस थाने में मंगलवार को दर्ज हुआ है।

महिला थानाधिकारी दीक्षा चौहान ने बताया कि शिवकर निवासी एक पिता ने मामला दर्ज करवाया कि उसका मकान राम नगर बाड़मेर शहर में है। मकान में उसकी बेटी और उसका बेटा रहता है। बेटी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के चलते व बेटे की कपड़े की दुकान पर मजदूरी करने के कारण दोनों मकान में रहते थे।

पीड़ित महिला का पडौसी था व्याख्याता

मार्च 2018 में उसके मकान के पास ही पीजी कॉलेज के व्याख्याता कानराज पूनिया के मकान का काम चल रहा था। इस दौरान कानराज ने उसकी पुत्री से जान पहचान कर कहा कि वह एक निजी कोचिंग क्लासेज में पढ़ाता है, उसे ज्वाइन कर लो, नौकरी लगवा दूंगा। इस पर महिला कोचिंग क्लासेज जाने लगी। इसके बाद कानराज ने महिला के मोबाइल नंबर भेजकर गलत मैसेज भेजने शुरू कर दिए और कॉल करने लगा।

जान से मारने की दी धमकी 

23 मार्च को जान से मारने की धमकी देकर लगातार यौन शोषण करने लगा। इससे महिला गुमसुम रहने पर 13 अप्रैल को परिजनों ने उससे जानकारी ली। महिला ने उसके भाई को पूरे घटनाक्रम के बारे में जानकारी बताई। उसने बताया कि कानराज नौकरी का झांसा देकर लगातार उससे दुष्कर्म कर रहा था। इस पर 15 अप्रैल को महिला थाने में एक रिपोर्ट दी गई, लेकिन महिला की मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने से उसे जोधपुर में इलाज के लिए ले जाया गया। जहां इलाज करवाने के बाद अब महिला थाने में इस आशय की रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

पीड़िता के पिता ने कहा कि उसकी शादीशुदा बेटी के साथ इस घटना के बाद परिवार का घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है। लगातार सामाजिक लोगों से दबाव दे रहा है। धमकियां दी जा रही है, इससे उन्हें जान को भी खतरा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here