स्वयंसेविकाओं व छात्राओं को दिलवाई स्वच्छता की शपथ

0
63

बाड़मेर

एम.बी.सी. राजकीय महिला महाविद्यालय, बाड़मेर की राष्ट्रीय सेवा योजना की स्वयं सेविकाओं व छात्राओं को स्वच्छता पखवाडा के दौरान स्वच्छता की शपथ दिलवाई गई। इस अवसर पर प्राचार्य डॉ ललिता मेहता ने छात्राओं को प्रेरित किया की ये स्वयंसेवक अपने परिवार, मोहल्ले, विद्यालय, अपने गाँव, अपने शहर व अनपे आस-पास के वातावरण को स्वच्छ रखेगे। न स्वयं गंदगी फैलायेगे और अन्य व्यक्तियों को भी ऐसा करने से रोकेगे।

प्रत्येक स्वयंसेवक ने 100 अन्यव्यक्तियों को भी स्वच्छता अभियान से जोड़ने का संकल्प लिया। इस अवसर पर वरिष्ठ संकाय सदस्य प्रो.डॉ हुक्माराम सुथार,खेल अधिकारी देवाराम चौधरी, प्रो.मुकेश पचोरी,प्रो.मांगीलाल जैन भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे। राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी प्रो.डायालाल सांखला एवं प्रो.गायत्री तंवर ने सभी का आभार व्यक्त किया।

यह भी पढ़े खबर 

किशोरावस्था के दौरान व्यक्तिगत स्वच्छता रखे – डॉ. कमलेश चौधरी

किशोरावस्था के दौरान होने वाले विभिन्न प्रकार के शारीरिक एवं मानसिक परिर्वतन प्राकृतिक है। इस समय शरीर में परिवर्तन तेजी से होते है, इसलिये बदलाव के दौरान एक सही दिशा मिलना आवश्यक है।किशोरावस्था के दौरान यह बदलाव लड़कों की अपेक्षा लड़कियों मे ज्यादा देखने को मिलता है। इन बदलाव के दौरान किशोरो को एक सही दिशा मिलना आवश्यक है जिससे इनमें तनाव, चिन्ता तथा शंकाओं का शमन हो।किशोरावस्था के दौरान व्यक्तिगत स्वच्छता पर जोर देते हुए यह जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कमलेश चौधरी ने सिद्धार्थ गुरुकुल उच्च माध्यमिक विद्यालय बाड़मेर में आयोजित रोगो से आजादी पखवाड़ा के दौरान विद्यार्थियों को दी।

स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. खेताराम सोनी ने बालिकाओं को माहवारी के दौरान होने वाली आम समस्याओं के बारे में जानकारी देते हुए बताया की माहवारी प्रबन्धन से विभिन्न प्रकारी की बीमारियों से बचा जा सकताहै। माहवारी के दौरान सेनेटरी नेपकिन का उपयोग तथा उपयुक्त खानपान के साथ नित्यकर्म करते रहना चाहिये।

जिला आर.के.एस.के. समन्वयक उमेदाराम जाखड़ ने 104 एवं 108 टोल फ्री सेवाओं की जानकारी देते हुए बताया की इन टोल फ्री नम्बरों पर किशोरावस्था सम्बन्धी विभिन्न विषयों पर परामर्श लिया जा सकताहै। जिला अस्पताल एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्थापित उजाला क्लिनिक पर भी उक्त विषयों पर परामर्श लिया जा सकता है।

इस कार्यक्रम के दौरान किशोरावस्था से सम्बन्धित विषयों पर प्रश्नोत्तरी का भी आयोजन किया गया जिसमें विजेताओं को विद्यालय प्रबन्धक लखदान चारण द्वारा पुरुस्कार प्रदान किए गए। इस दौरानजागरुकता रैली का भी आयोजन किया गया, जो की शहर के विभिन्न मार्गां से होते हुए पुनः स्कूल में समाप्त हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here