मुख्यमंत्री ने मार्बल एवं ग्रेनाइट स्लैब्स पर जीएसटी कम करने का किया आग्रह

0
294

जयपुर।

मुख्यमंत्री  वसुंधरा राजे ने बुधवार को नई दिल्ली में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से उनके नार्थ ब्लॉक स्थित कार्यालय में मुलाकात कर प्रदेश के संगमरमर उद्योग से जुड़े लोगों और अफीम किसानों की समस्यायों पर चर्चा की। उन्होंने उदय योजना के तहत ऋण के पुनर्भुगतान के लिए उधार की सीमा बढ़ाने का भी अनुरोध किया।

राजे ने बताया कि राजस्थान के संगमरमर उद्योग की देश-विदेश में अलग ही पहचान है। इस उद्योग से राज्य के हजारों लोगों को रोजगार मिल रहा है। उन्होंने  जेटली से मार्बल और ग्रेनाइट स्लैब्स तथा टाइल्स पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की वर्तमान टैक्स दरों को कम करवाने का आग्रह किया ताकि इस उद्योग से जुड़े उद्यमियों के साथ ही उपभोक्ताओं को भी राहत मिल सके।

मुख्यमंत्री ने अफीम किसानों के हित में केन्द्र सरकार द्वारा उठाये गये कदमों के लिए आभार जताया और साथ ही तोल से जुड़ी किसानों की कठिनाईयों को दूर करने का आग्रह किया।

राजे ने केन्द्रीय वित्त मंत्री से उदय योजना के तहत ऋण के पुनर्भुगतान के लिए उधार की सीमा बढ़ाने की अनुमति प्रदान करने का भी आग्रह किया।

इस अवसर पर राज्य के नगरीय विकास मंत्री श्रीचंद कृपलानी, अतिरिक मुख्य सचिव वित्त डी. बी. गुप्ता, वित्त सचिव (राजस्व) प्रवीण गुप्ता भी उपस्थित थे।

केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री से मुलाकात

इससे पहले मुख्यमंत्री ने केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री के जे अल्फांस से मुलाकात की। उन्होंने केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री के साथ प्रदेश की पर्यटन विकास संबंधी परियोजनाओं और अन्य विषयों पर चर्चा की। इस अवसर पर केंद्रीय खाद्य एवं उपभोक्ता राज्य मंत्री सी. आर. चौधरी, सार्वजनिक निर्माण मंत्री युनूस खान और जल संसाधन मंत्री डॉ. राम प्रताप भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here