रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने पोकरण फील्ड फायरिंग रेन्ज का लिया जायजा

0
506

जैसलमेर

देश की नवनियुक्त रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शनिवार को जैसलमेर की पोकरण फील्ड फायरिंग रेन्ज में भारतीय सेना की सामरिक ताकत को और मजबूत करने व उसकी भविष्य की जरूरतों को पूरा करने के लिये की जा रही सैन्य तैयारियों का जायजा लिया जहां रक्षामंत्री ने पोकरण फील्ड फायरिंग रेन्ज के खेतोलई क्षेत्र में विश्व में अब तक सबसे लंबी दूरी पर मार करने वाली डी.आर.डी.ओ पूना द्वारा विकसित देशी गन ए.टी.ए.जी.एस की सर्वोच्च दूरी पर सफलतापूर्वक टारगेट हिट करने का नजारा देखा इससे पहले उन्होंने इस गन के बारे में डी.आर.डी.ओ व निजी कंपनी कावेरी कंपनी के विशेषज्ञों से फीडबैक भी लिया।

इस दौरान थलसैनाध्यक्ष जनरल विपिन रावत, सदन कमान के कमांडिंग इन चीफ लेफ््टीनेन्ट जनरल हारिज व सेना व डी.आर.डी.ओ के अन्य अधिकारी मौजूद थे।
इसी दौरान पोकरण क्षेत्र के लाठी क्षेत्र में डी.आर.डी.ओ द्वारा विकसित किए गए देश में निर्मित आधुनिक शक्तिशाली थर्ड जनरेशन के अपग्रेडेड टैंक अर्जुन मार्क 2 की जबरदस्त फायरिंग केपेबिलिटी को देखा।
इससे पूर्व रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण व थलसेना अध्यक्ष जनरल विपिन रावत के शनिवार सुबह 8:35 पर वायुसेना के विशेष विमान से जैसलमेर की वायुसैनिक हवाई अड्डे पहुंचने पर कोरणाक कोर के कोम कमांडर लेफिटनेंट जनरल पी.एस.राजेष्वर जैसलमेर एयरफोर्स स्टेषन के कमांडर डी. वेदाजना, विधायक छोटू सिंह भाटी, जैसलमेर जिला कलेक्टर के.सी.मीणा, पुलिस अधीक्षक गौरव यादव, सेना व वायुसेना के अधिकारियों ने उनका गर्मजोशी से स्वागत किया। जैसलमेर हवाई अड्डे पर अपने संक्षिप्त प्रवास के दौरान विधायक छोटू सिंह भाटी ने जैसलमेर की कई समस्याओं को रक्ष्षा मंंत्री के समक्ष उठाया .

करीब 15 मिनट के प्रवास के  बाद रक्षा मंत्री थल सेना अध्यक्ष के साथ हेलिकाॅप्टर से खेतोलाई फायरिंग रेन्ज रवाना हुई वहां पर 9ः15 बजे पहुंचने पर वहां पर सदन कमान के कमाण्डिंग एन चीफ लेफिटनेंट जनरल हारिज ने रक्षामंत्री व थलसेनाध्यक्ष जनरल विपिन रावत का अन्य सैन्यधिकारियों के साथ उनकी अगुवानी की। उन्होंने खेतोलाई रेन्ज में 155 एम.एम की देशी गन जिसे डी.आर.डी.ओ पूना ने विकसित किया हैं वह कावेरी ग्रुप की मदद से निर्माण किया हैं इसकी खूबीयों के बारे में डी.आर.डी.ओ व सैन्यधिकारियों से जानकारी हासिल की। अधिकारियों ने बताया कि यह विश्व की सबसे लंबी दूरी पर मार्क पर गन हैं। हाल ही में इस गन ने पोकरण रेन्ज में 47.2 कि.मी. की दूरी तक टारगेट को हिट करने का रिकाॅर्ड कायम किया है। इस गन की फायर केपेबिलिटी देखने के बाद वह लाठी फायरिंग रेन्ज पहुंची जहां पर डिस्प्ले करके रखे गए अर्जुन टैंक मार्क 2 के बारे में जानकारी हासिल की अधिकारियों ने इसकी खूबीयों के बारे में बताय। बाद में उन्होंने अर्जुन टैंक मार्क 2 की प्रहार फायरिंग क्षमता को भी देखा।

अपग्रेडेड अर्जुन टैंक ने टारगेट पर अचूक निषाने साधकर पोकरण फील्ड फायरिंग रेन्ज को जबरदस्त धमाकों से गूंजायमान कर दिया। अपने पोकरण रेन्ज के दौरे के दौरान वे सेना व जवानों अधिकारियों से मिली व उनकी हौसला अफजाई की। सैन्यधिकारियों ने इस विजिट के दौरान उन्हें पूरे अग्रिम क्षेत्रों के बारे में आॅपरेशनल क्रियाकलापों के बारे में ब्रिफिंग दी। उन्होंने जवानों, सैन्यधिकारियों को इतनी गर्मी डयूटी केे लिए शाबाशी देते हुवे उनके द्वारा किए जा रहे क्रियाकलापों व आॅपरेशन की सराहना की व सैन्य तैयारियों के संबंध में सतोष व्यक्त किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here