चिकित्सा मंत्री शर्मा ने जवाहिर अस्पताल का किया निरीक्षण

जवाहिर अस्पताल की व्यवस्थाएं होगी चाक चौबंद

0
126

जैसलमेर।

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा ने गुरूवार प्रातः जिला अस्पताल श्रीजवाहिर चिकित्सालय का औचक निरीक्षण कर सफाई और स्वास्थ्य सेवाओं का सम्पूर्ण जायजा लिया। उन्होंने जिला चिकित्सालय में स्वाईन फ्लू की रोकथाम को किए गये प्रबंधों की समीक्षा की।

चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने चिकित्सालय के बाहरी परिसर के क्षेत्र एवं अंदर की ओर स्थित सभी वार्डो भ्रमण कर पूरी व्यवस्थाओं को बारीकी से अवलोकन किया। उन्होंने अस्पताल की सफाई व्यवस्था समुचित ढंग से नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त की तथा प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि वे अस्पताल की सफाई व्यवस्था में ओर अधिक बेहतरीन सुधार लाने के लिए कड़े कदम उठाए एवं श्रीजवाहिर चिकित्सालय एकदम स्वच्छ एवं चमकता हुआ नजर आवें तथा यहां आने वाले मरीज व उनके परिजन इस सफाई व्यवस्था की तारीफ करें। निरीक्षण के दौरान जैसलमेर विधायक रूपाराम धनदेव, जिला प्रमुख श्रीमती अंजना मेघवाल, पूर्व जिला प्रमुख अब्दुल्ला फकीर, समाजसेवी गोविन्द भार्गव, विकास व्यास, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी श्रीमती उषा दुगड, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. बी.एल.बुनकर मौजूद थें।

चिकित्सा मंत्री शर्मा ने चिकित्सालय में बनाए गए स्वाईन फ्लू के आईसोलेटेड वार्ड का निरीक्षण किया तथा स्वाईन फ्लू से निपटने को किए गए चिकित्सा प्रबंधों की समीक्षा की। उन्होंने स्वाईन फ्लू की स्क्रीनिंग व्यवस्था की जांच की। साथ ही चिकित्सालय में ट्रोमा सेन्टर तथा मातृ एवं शिशु चिकित्सा केन्द्र का भी निरीक्षण किया। वहां मौजूद चिकित्सकों से मरीजों के बारे में पूछताछ की एवं भ्रमण कर मरीजों की कुशलक्षेम पूछी। उन्होंने सफाई एवं शौचालयों की सफाई व्यवस्था को भी देखा। उन्होंने प्रमुख चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि वे एक सामान्य आदेश जारी कर वार्ड के चिकित्सक प्रभारी एवं एनएनएम को पाबंद करें कि वे राउण्ड में आते ही सबसे पहले मरीजों को वार्ड में सफाई रखने के लिए संदेष देते हुए सफाई के लिए किन-किन बातों का ध्यान रखे उसकी पूरी जानकारी देवें ताकि उनकी नियमित प्रेरणा से वार्डो में सफाई व्यवस्था में आषातीत सुधार आवें। उन्होंने मरीजों को बेहतर निःशुल्क सुविधा का लाभ देने के भी निर्देष दिए वहीं मरीजों से भी उनको मिल रही चिकित्सा सुविधा का फीडबैक लिया।

उन्होंने मुख्यमंत्री निःषुल्क दवा वितरण केन्द्रों का निरीक्षण किया तथा दवाइयों के वितरण की व्यवस्था को परखा। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा निःषुल्क सभी 275 दवाईयां स्टोर में उपलब्ध रखने के निर्देष दिए। उन्होंने स्टॉक में उपलब्ध दवाइयांे की जानकारी ली तथा प्रतिदिन वितरित दवाइयों का इन्द्राज कम्प्यूटर में करने के निर्देष दिए। साथ ही चिकित्सकों को पाबंद किया कि वे बाहर की दवाईयां तथा जांचें नहीं लिखें। उन्होंने आउटडोर में मरीजों को कतारबद्व कर चेक करने के लिए चिकित्सकों को पाबंद किया। साथ ही प्रतिदिन के मरीजों की संख्या का ब्यौरा रखने के निर्देष दिए। उन्हांेने निःषुल्क जांच व्यवस्था की भी जानकारी ली तथा प्रतिदिन आने वाले मरीजो को निःशुल्क जांच करने के निर्देश दिए। चिकित्सा मंत्री ने ट्रोमा सेन्टर का भी निरीक्षण किया तथा यहां प्रत्येक समय आपातकालीन सेवाएं उपलब्ध रखवाने के निर्देष दिए। उन्होंने ट्रोमा सेन्टर के ऑपरेषन थियेटर का निरीक्षण किया एवं इसे दुरस्त करने के निर्देष दिए।

चिकित्सा मंत्री शर्मा ने जिला चिकित्सालय में कार्यरत प्रतिदिन उपलब्ध चिकित्सकों की जानकारी के लिए अलग-अलग फ्लैक्स लगवाने को कहा। साथ ही पर्ची रजिस्ट्रेशन कक्ष पर पर्ची जारी करने के साथ ही किस चिकित्सक को बताना है व उसके कक्ष संख्या का भी विवरण देने को कहा। साथ ही उन्होंने एमसीएच में भी 24 घण्टे पर्ची काउण्टर स्थापित करने को कहा एवं यहां आने वाले मरीजो की सोनोग्राफी भी एमसीएच में ही करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने चिकित्सालय में होने वाली निःषुल्क जांचों तथा उपलब्ध निःशुल्क दवाइयों की सूची अस्पताल में अलग-अलग स्थानों पर फ्लैक्स लगवाकर चस्पा करने के निर्देश दिए।

इस दौरान विधायक रूपाराम धनदेव ने जिला चिकित्सालय में रिक्तियों की स्थिति तथा स्थानीय आवष्यकताओं से अवगत कराया, जिस पर चिकित्सा मंत्री ने अतिशीघ्र समाधान का आश्वासन दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here