जोधपुर कोनार्क कोर की यूनिट ने मलेशिया में सैन्य युद्ध अभ्यास में लिया हिस्सा

0
295

जोधपुर

(पसूका) इंडो मलेशियाई रक्षा सहयोग के हिस्से के रूप में, अभ्यास हरिमों शक्ति 30 अप्रैल को विडेबन शिविर, कुआलालंपुर, में दोनों संयुक्त राष्ट्रों की सशस्त्र बलों के बीच सहयोग और समन्वय को मजबूत करने और जंगल इलाके में काउंटर इंसरजेंसी आपरेशन के संचालन में विशेषज्ञता साझा करने के लिए एक संयुक्त अभ्यास शुरू किया गया।

मेजर जनरल दातुक मोहम्मद जकरिया बिन हजयाडी, जीओसी 4 डिव मलेषियाई सेना ने भारतीय दल के जोधपुर स्थित कोणार्क कोर की यूनिट की टीम के साथ बातचीत की और कर्नल एस एन कार्तिकेयन, सीओ 4 ग्रेनेडियर द्वारा लेफ्टिनेन्ट कर्नल इरवान बिन इब्राहिम, सीओ 1 राॅयल रंजीर रेजिमेंट को ग्रेनेडियर रेजिमेंट के झण्डे को सौंपने के साथ समारोह शुरू किया।

दो हफ्ते के लंबे सैन्य अभ्यास में दोनों सेनाओं द्वारा संयुक्त राष्ट्र् के जनादेष के तहत काउंटर टेररिस्ट और काउंटर इंसरजेंसी में अपने सामरिक और तकनीकी कौशल को उभारा जाएगा। इस अभ्यास में एक क्राॅस ट्रेनिग चरण शामिल होगा जिसके बाद हूलू लैंगट के जंगलों में सात दिनों के फील्ड प्रशिक्षण चरण होंगे, जिसमें दोनों सेनाऐं संयुक्त रूप से प्रशिक्षण गतिविधियों की एक श्रृंखला को निष्पादित करेंगे। जंगल युद्ध में सामरिक परिचालन पर ध्यान केंद्रित रहेगा। अभ्यास हरिमों शक्ति दोनों देशो के बीच द्धिपक्षीय संबंधों में एक सकारात्मक कदम है।

यह पहली बार है जब मलेशियाई मिट्टी पर भारतीय और मलेषियाई सैनिकों से जुड़े इस परिमाण का संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास आयोजित किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here