25 फरवरी से 3 मार्च तक चलेगा ‘मतोत्सव-मत का अधिकार जागरूकता कार्यक्रम

0
235

जयपुर।

आगामी लोकसभा चुनाव-2019 में मतदाताओं की भागीदारी और सक्रियता बढ़ाने के लिए निर्वाचन विभाग 25 फरवरी से 3 मार्च तक ‘मतोत्सव-मत का अधिकार जागरूकता कार्यक्रम शुरू कर रहा है। इस अनूठे जागरूकता कार्यक्रम के जरिए प्रदेश के जिला मुख्यालय से लेकर मतदान केन्द्रों तक सप्ताह भर विभिन्न प्रकार की दिलचस्प गतिविधियां और कार्यक्रम आयोजित करवाए जाएंगे।

अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. जोगाराम ने बताया कि विधानसभा चुनाव के बाद आगामी लोकसभा चुनाव में बेहतर माहौल के निर्माण के लिए यह नवाचार किया जा रहा है। इसके जरिए प्रत्येक दिन संपूर्ण राज्य में ऎसी दिलचस्प गतिविधियां आयोजित करवाई जाएंगी, जिससे न केवल मतदाता अपने मताधिकार के प्रति जागरूक होंगे बल्कि निर्वाचन से जुड़ी जानकारियों से भी रूबरू होंगे।

सात दिन-सभी वगोर्ं के लिए होंगी खास एक्टीविटीज

पहले दिन संकल्प पत्र के साथ मानव चैन बनाकर एसएमएस सर्विस, वोटर हैल्प लाइन नंबर 1950 और एनवीएसपी पोर्टल और वेबसाइट के बारे में ‘नाम चैक किया क्या‘ स्लोगन के साथ सभी समूहों के लिए जागरूकता संबंधी कार्यक्रम करवाए जाएंगे।

दूसरे दिन संकल्प पत्र के साथ दीपदान कॉन्सेप्ट के साथ शहरी मतदाताओं के लिए कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

तीसरे दिन संकल्प पत्र के साथ ‘वोट बारात‘ निकाली जाएगी। साथ ही ‘गांव-गांव ढाणी-ढाणी, वोटर बनने की ठानी‘ स्लोगन के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यक्रम करवाए जाएंगे।

चौथे दिन संकल्प पत्र के साथ महिला मार्च और वोटर हैल्प लाइन 1950 से जुड़ी गतिविधियां ‘नारी का सम्मान-वोटर लिस्ट में नाम‘ स्लोगन के साथ खासकर महिलाओं के लिए आयोजित की जाएंगी।

पांचवें दिन पुरुषों को केंद्रित करते हुए साइकिल रैली, एसएमएस सर्विस संबंधी गतिविधियां ‘जिम्मेदारी दिखाएंगे वोटर लिस्ट में नाम लिखवाएंगे‘ स्लोगन के साथ आयोजित करवाई जाएंगी।
छठे दिन दिव्यांगजनों को निर्वाचन प्रक्रिया से जोड़ने के लिए ट्रायसाइकिल रैली आयोजित करवाई जाएगी और ‘अधिकार का प्रयोग करना है-वोटर लिस्ट में नाम लिखवाना है‘ के स्लोगन के साथ गतिविधियां होंगी।

सप्ताह के आखिरी दिन युवाओं को जोड़ने के लिए संकल्प पत्र के साथ मैराथन का आयोजन किया जाएगा। युवाओं के लिए ‘18 के हो गए हम-वोटर लिस्ट में नाम लिखवाएंगे हम‘ स्लोगन के साथ एनवीएसपी पोर्टल, वेबसाइट और राज-इलेक्शन एप से जुड़ी जानकारियों को विभिन्न गतिविधियों के जरिए साझा किया जाएगा।

डॉ. जोगाराम ने बताया कि इन सभी गतिविधियों का उद्देश्य 2 और 3 मार्च को लगाए जाने वाले विशेष अभियानों में अधिकाधिक संख्या में युवा मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में पंजीकृत करवाना और पूर्व में पंजीकृत मतदाताओं को अपना नाम मतदाता सूची में जांचने के लिए प्रेरित करना है। उन्होंने सभी मतदाताओं से अपील भी की कि समय निकाल कर 2 और 3 मार्च को अपने निकट के मतदान केंद्र पर जाकर अपना नाम जरूर जांच लें। दोनों दिन प्रातः 9 से सायं 6 बजे तक बीएलओ राज्य के सभी 51 हजार 965 मतदान केंद्रों पर उपस्थित रहकर आवेदन लेंगे।

पूर्व में पंजीकृत मतदाता भी देख लें अपना नाम

पूर्व में पंजीकृत मतदाता भी अपना नाम विभाग के बनाए एप, वेबसाइट और एसएमएस के जरिए खोज लें और किसी भी तरह की कमी होने पर संशोधन के लिए आवेदन कर दें। नाम जुड़वाने के लिए युवा फॉर्म नंबर-6 में आवेदन कर बीएलओ को प्रस्तुत करें। ऎसे मतदाता जिनकी मृत्यु हो चुकी है या अन्यत्र स्थानान्तरित हो गए हैं, ऎसे नाम मतदाता सूची से हटाने के लिए फॉर्म नंबर-7 और मतदाता सूची में अंकित प्रविष्टि के संशोधन के लिए फॉर्म नंबर-8 में आवेदन बीएलओ को प्रस्तुत करें। इसके अलावा एक ही विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में एक मतदान केन्द्र के क्षेत्र से दूसरे मतदान केन्द्र के क्षेत्र में निवासरत मतदाता अपने क्षेत्र की मतदाता सूची में नाम सम्मिलित किए जाने के लिए फॉर्म नंबर 8-क में आवेदन पत्र संबंधित बूथ लेवल अधिकारी को प्रस्तुत कर सकते हैं।

‘राज इलेक्शन एप‘ से खोज सकते हैं वोटर लिस्ट में नाम

मतदाता अपना नाम निर्वाचन विभाग द्वारा तैयार ‘राज इलेक्शन एप पर भी ढूंढ सकते हैं। इस एंड्राइड एप के जरिए प्रदेश के मतदाता अपने नाम या वोट आईडी नंबर से निर्वाचन संबंधी जानकारी ले सकते हैं। एप के माध्यम से चंद सैकंडों में भाग संख्या, क्रम संख्या तथा मतदान केन्द्र की जानकारी मिल सकेंगी। इसके अलावा परिवारजनों के नाम एक साथ देखने की सुविधा इस एप के माध्यम से मिल सकेगी।

मैसेज भेजकर भी पा सकते हैं जानकारी

किसी मोबाइल में इंटरनेट नहीं होने की स्थिति में मतदाता एसएमएस के जरिए भी अपना नाम चेक कर सकते हैं। इसके लिए मतदाता को मैसेज बॉक्स में जाकर VOTERJ स्पेस (अपना आईडी कार्ड नंबर) स्पेस के बाद उसे 9680999899 नंबर पर मैसेज करने से कुछ ही देर में आपका नाम, उम्र, मतदान केंद्र नंबर दिखाई देने लगेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here