बाड़मेर में खेले तेज गेदबाज ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ फेंकी सबसे तेज गेंद 

0
391

जयपुर

अंडर -19 विश्व कप में खेल रहे 18 साल के भारतीय तेज गेंदबाज कमलेश नागरकोटी ने अपनी गति से हर किसी को चौका दिया है। राजस्थान के बाड़मेर में रहते हुए करी वर्षो तक नागरकोटी ने कई मैच खेले थे मिली जानकारी के मुताबिक हालाकि वो बाड़मेर के नही है गेंदबाज कमलेश नागरकोटी राजस्थान के जयपुर के है

नागरकोटी ने आस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में लगभग 149-150 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद फेंकी है।शायद यह विश्व में भारतीय तेज गेंदबाजों के दबदबे की आहट है। इससे पहले पिछले अंडर-19 विश्व कप में वेस्ट इंडीज के युवा गेंदबाज अलजेरी जोसेफ ने 147 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंद डालकर सबका ध्यान खींचा था।

भारतीय तेज गेंदबाजी के लिए शुभ संकेत

रविवार को न्यूजीलैंड माउंट मोंगानुई में खेले गए अंडर-19 विश्व कप के मैच में आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारतीय तेज गेंदबाजों ने जमकर कहर बरपाया। इसके अगुआ रहे राजस्थान के कमलेश नागरकोटी। उन्होंने अपनी गेंदबाजी के दौरान कई गेंदें 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से ऊपर की फेंकी। यह भारतीय गेंदबाजी के लिए शुभ संकेत है। इसी मैच में उत्तर प्रदेश के नोएडा के एक और तेज गेंदबाज शिवम मावी ने भी लगभग 145 किलोमीटर की रफ्तार से गेंद फेंककर विरोधियों को पस्त करने में अहम भूमिका निभाई है। मैच के दौरान नागरकोटी ने सबसे तेज गेंद 149 किमी प्रति घंटे और मावी ने 146 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से फेंकी।

 

जब नागरकोटी ने विल सदरलैंड को 145 की रफ्तार से गेंद फेंकी तब वह नजारा देखने लायक था और पलक झपकते ही गिल्ली उड़ा दी। इसे भारतीय गेंदबाजी में नए युग की शुरुआत के तौर पर भी देखा जा सकता है। इस रफ्तार से गेंदबाजी को देखना हमेशा से रोमांचक रहा है जहां बल्लेबाज का पलक झपकना ही उसे पवेलियन भेजने के लिए काफी है।
शिवम और नागरकोटी ने पूरे मैच के दौरान सिर्फ पेस से ही नहीं चौकाया बल्कि उनकी लाइन और लेंथ भी सटीक थी।

राजस्थान के गेंदबाज ने जहां अपने सात ओवर में महज 29 रन खर्च कर तीन विकेट झटके, वहीं शिवम ने भी 45 रन देकर तीन विकेट त्चटकाए। नागरकोटी कोई पहली बार अपनी गेंदबाजी को लेकर चर्चा में नहीं हैं, इससे पहले भी उन्होंने प्रथम श्रेणी मैच में हैट्रिक लेकर अपना लोहा मनवाया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here